08 जुलाई 2022 (क्रिप्टो न्यूज़ हिंदी)

LES और NASDAQ में लिस्टेड बिटकॉइन माइनिंग करने वाली कंपनी ‘Argo ब्लॉकचेन पीएलसी’ ने कल एक आर्टिकल
पब्लिश किया है जिसमें उन्होंने आपने पिछले दो महीनों के काम के बारे में विवरण दिया है। Argo बहुत बड़े पैमाने पर बिटकॉइन माइनिंग का काम करती है और यह कम्पनी टेक्सास में बिटकॉइन माइनिंग का काम करने के साथ US, कनाडा और UK में भी अपने ऑफिस से अपने काम चलाती है। एर्गो ने कल जो रिपोर्ट पब्लिक की है वह बहुत महत्वपूर्ण है और इस से हम बिटकॉइन और क्रिप्टो बाजार के बारे में काफी कुछ जान सकते हैं ?

Argo ने बताया है की मई के महीने में कम्पनी ने कुल 124 बिटकॉइन या बिटकॉइन के बराबर क्रिप्टो को माईन किया है लेकिन जून में कम्पनी ने 179  बिटकॉइन या बिटकॉइन के बराबर क्रिप्टो को माईन किया है। क्योंकि यह कंपनी बिटकॉइन का अलावा और भी क्रिप्टो माईन करती है तो उसे मिला कर कुछ बिटकॉइन के बराबर कमपनी ने अपनी माइनिंग का डाटा दिया है। मई से ज्यादा जून में बिटकॉइन ज्यादा माईन होने का कारण इस कंपनी का हैश रेट बढ़ना बताया जा रहा है। अगर एक्सचेंज पर चल रहे बिटकॉइन की कीमत से इसकी तुलना की जाए तो इस कंपनी ने मई में 3.89 मिलियन डॉलर और जून में 4.35 मिलियन डॉलर की कीमत का बिटकॉइन माईन किया है। 30 जून 2022 तक कंपनी के पास कुल 1953 बिटकॉइन होल्ड किया हुआ था जिसमें 210 बिटकॉइन के बराबर और क्रिप्टो है।

जून महीने में कंपनी ने 24500$ की कीमत के हिसाब से कुल 637 बिटकॉइन को बेचा है। इस पैसे को दो मुख्य कामों पर खर्च किया गया है। सबसे पहला है माइनिंग पर होने वाले खर्च पर और दूसरा, जो कंपनी ने गैलेक्सी डिजिटल से अपने बिटकॉइन के ऊपर लोन लिया हुआ है उसे कम करने के लिए यह बिटकॉइन बेच कर लोन को कम किया गया। यह कंपनी की अपने लोन के जोखिम को कम करने की रणनीति के अंतर्गत किया गया है। कम्पनी ने बताया है कि वह इस वर्ष में लगातार अपने द्वारा माईन किये जाने वाले बिटकॉइन के कुछ भाग को बेच कर अपने बिटकॉइन लोन को कम कर रहे हैं। 30 जून 2022 तक कम्पनी के ऊपर 22 मिलियन डॉलर का बिटकॉइन लोन बाकि बचा हुआ हैं। कम्पनी का कहना है कि उनके पास इतना बिटकॉइन रखा हुआ है कि वह बिटकॉइन की कीमत के नीचे गिरने की स्तिथि में अपने बिटकॉइन पर लिए हुए लोन को लिक्विडेट होने से बचा सकते हैं।

Argo ब्लॉकचेन ने अपनी माइनिंग ताकत को बढ़ाते हुए अपने निर्धारित लक्ष्य के अनुसार जून तक अपनी S19J बिटकॉइन माइनिंग मशीनों को लगाना शुरू किया हुआ है। यह बिटकॉइन मशीने Bitmain कम्पनी द्वारा मंगवाई गयी हैं और इसकी 95% कीमत चुकाई जा चुकी है, जिसमें बिटकॉइन की कीमत में गिरावट के कारण दिया गया डिस्काउंट शामिल है। जून तक कम्पनी ने अपने बिटकॉइन माइनिंग हैश को बढ़ा कर 22-EH/s कर लिया है। अक्टूबर 2022 तक Bitmain द्वारा मंगवाई गयी सभी 20000 मशीनों को लगा लिया जाएगा और इस से कम्पनी की बिटकॉइन माइनिंग हैश पावर और बढ़ जाएगी। कोर साइंटिफिक के साथ अपनी S19J मशीनों को स्वैप अग्रीमेंट के अंतर्गत अपग्रेड करने का काम भी चल रहा है। इस अग्रीमेंट के अंतर्गत अभी तक 5000 S19J प्रो मशीनों की डिलीवरी हो चुकी है और इन्हें लगाया जा चूका है।

Argo के सीईओ ने कहा है कि हम लगातार अपने बिटकॉइन बेक्ड लोन को कम कर रहे है और इसके हमे सकारात्मक नतीजे मिले है।

यहां पर अगर हम देखें तो लगातार काफी कम्पनियां ऐसी देखने को मिल रही है जिन्होंने अपने बिटकाॅइन पर लॉन लिया हुआ है। अब जब बिटकाॅइन की कीमत में लगातार गिरावट दर्ज की गई है तो इन्हें डर है कि कहीं इनका बिटकाॅइन लिक्विडेशन के पास न पहुंच जाए इस लिए बिटकाॅइन को बेच कर अपने रिस्क को कम किया जा रहा है। यह एक कारण हो सकता है बिटकाॅइन की कीमत में और ज्यादा गिरावट का। बिटकाॅइन पर लॉन ले कर अपने व्यापार पर लगाना सही है जो Argo कर रही है लेकिन बिटकाॅइन पर लॉन ले कर फिर बिटकाॅइन खरीदना शायद सही निर्णय नहीं होगा जो माइक्रोसट्रेटजी कर रही है। बिटकाॅइन और क्रिप्टो अभी बहुत नीचे है और अगर यह और नीचे गया तो काफी लोगों को बडा नुक्सान पहुंचा सकता है। फिलहाल क्रिप्टो बाज़ार के और नीचे जाने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।
#Argo #bitcoin #cryptonewshindi #EPNS

Visit us – www.cryptonewshindi.com

follow us on Twitter – https://twitter.com/cryptonewshindi?s=08

Follow us on Telegram – https://t.me/CryptoNewsHindi7i

Mail us – cryptonewshindi7@gmail.com