18-जून-2020 गुरुवार

क्रिप्टो की सबसे अग्रणी और विश्व विख्यात क्रिप्टो एक्सचेंज बाइनेंस ने इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया की सदस्यता ली है,यह जानकारी एक्सचेंज ने अपने एक ब्लॉग और ट्विटर के जरिए दी है।

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया भारत में डिजिटल व्यापार की सबसे बड़ी संस्था है और पिछले कुछ सालों से रिज़र्व बैंक के बैन के विपक्ष में इस सर्वोच्च न्यायालय में मुकदमा लड़ने और जीतने में इस संस्था का बड़ा हाथ था और इन्ही के प्रयासों से रिज़र्व बैंक का क्रिप्टो से बैन हटा था।इन दोनों का साथ आने का उद्देश्य भारत में क्रिप्टो और ब्लॉकचेन के क्षेत्र में प्रगति करना और इसके लिए सही वातावरण बनाना है ताकि भारत भी बाकि देशों की तरह क्रिप्टो और ब्लॉकचेन के क्षेत्र में आगे बढ़े।

इस बारे में इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के वाईस प्रेजिडेंट गौरव चोपड़ा ने कहा है कि “हम बाइनेंस का इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया का सदस्य बनने पर स्वागत करते हैं।बाइनेंस ने कई देशों में क्रिप्टो को विनियमित(रेगुलेट) करवाने में कार्य किए हैं,हम बाइनेंस और बाकि इंड्रस्ट्री के खिलाडीयो के साथ काम करने के लिए उत्साहित हैं क्रिप्टो को भारत में सही तरीके से रेगुलर करने से उद्देश्य से,दूसरी एक्सचेंज को सहयोग देने के साथ ही एक मजबूत फ्रेमवर्क बनाने के साथ ही संभव खतरों के ऊपर भी कार्य करने के लिए तैयार हैं”।

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया योजना बना रही है कानून बनाने वाले और रेगुलेट करने वालों के साथ काम करने की ताकि भारत में क्रिप्टो को कैसे रेगुलर किया जाए और साथ ही इसकी पूरी तरह से निगरानी की जा सके और संभावित खतरों पर भी काम हो सके।

इस बारे में बाइनेंस के सीईओ चेंगपेंग ने कहा कि “बाइनेंस इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के साथ आ कर उत्साहित है और हम प्रयास करेंगे भारत में क्रिप्टो और ब्लॉकचेन इंड्रस्ट्री की प्रगति के लिए।बाइनेंस प्रतिबद्ध है और सहयोगी है भारतीय क्रिप्टो और ब्लॉकचेन प्रोजेक्ट का साथ देने के लिए जो ब्लॉकचेन प्रोजेक्ट द्वारा समस्याओं का समाधान निकाल रहे हैं,साथ ही जो हमारे ‘ब्लॉकचेन इंडिया फण्ड’ के साथ इस दिशा में काम कर रहे हैं।हमें उम्मीद है इस दिशा में तेजी से काम होगा और हम इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के साथ मिल कर क्रिप्टो और ब्लॉकचेन के बारे में सही फ्रेमवर्क बनाने की दिशा में साथ मिल कर कार्य करेंगे”।
यह एक बहुत सकारात्मक शुरुआत है भारत में क्रिप्टो और ब्लॉकचेन की दुनिया में जहां क्रिप्टो और ब्लॉकचेन के लिए जहां एक कानूनी प्रक्रिया को सही दिशा में ले जाया है सकेगा साथ ही इस क्षेत्र में अच्छी और बेहतर संभावनाओं पर भी काम होगा और भारत भी बाकि देशों की तरह इस क्षेत्र में आगे बढ़ेगा।

 

 

#IAMAI #BINANCE #CRYPTONEWSHINDI