19 फ़रवरी 2022 शनिवार (क्रिप्टो न्यूज़ हिन्दी)

रूस और यूक्रेन के बीच चाहे लड़ाई जैसी स्तिथि बनी हुई है लेकिन इतने तनाव के बीच में भी यूक्रेन ने बिटकॉइन को अपने देश में लीगल बना दिया है। यूक्रेन ने एक आधिकारिक घोषणा करते हुए गुरुवार के दिन बिटकॉइन को अपने देश में लीगल बना दिया है यानि यह पर अब बिटकॉइन को खरीदना और बेचना कानूनी तौर पर लीगल हो गया है। लेकिन इसे लीगल टेंडर यानि के लेनदेन का माध्यम या मुद्रा का दर्जा नहीं मिला है। गुरुवार को यूक्रेन की पार्लियामेंट में बिटकॉइन को लीगल करने के बिल पर वोटिंग के दौरान 270 वोट बिटकॉइन के पक्ष में मिले और इसे लीगल कर दिया गया। इस बिल में बिटकॉइन और क्रिप्टो लेनदेन से सम्बंधित नियम बनाए गए हैं जिसमें बिटकॉइन लेनदेन की सुविधा देने वाली एक्सचेंज को सरकार के नियमों को मानने, नियम न मानने पर जुर्माना निर्धारित करने के साथ साथ सरकारी नियंत्रण के दिशा निर्देशों का भी विवरण दिया गया है। यूक्रेन सिक्योरिटीज कमीशन बिटकॉइन और क्रिप्टो से सम्बंधित लेनदेन मामलों की निगरानी करेगा और यह देखेगा कि देश में क्रिप्टो और बिटकॉइन का लेनदेन सरकारी दिशा निर्देशों के अंतर्गत ही हो।

यूक्रेन ने इससे संबंधित जो दस्तावेज सार्वजनिक किए हैं, उनका हिन्दी अनुवाद निम्नलिखितहै-:

Verkhovna Rada ने “वर्चुअल एसेट्स पर” कानून में यूक्रेन के राष्ट्रपति के संशोधन का समर्थन किया। 272 विधायकों ने उन्हें वोट दिया। कानून यूक्रेन में डिजिटल संपत्ति के लिए एक कानूनी बाजार शुरू करेगा। परिवर्तनों के अनुसार, राष्ट्रीय प्रतिभूति आयोग डिजिटल संपत्ति बाजार को नियंत्रित करेगा।

“नया कानून हमारे देश में व्यापार विकास के लिए एक अतिरिक्त अवसर है। विदेशी और यूक्रेनी क्रिप्टो कंपनियां कानूनी रूप से काम करने में सक्षम होंगी, और यूक्रेनियन के पास क्रिप्टो संपत्ति के लिए वैश्विक बाजार में सुविधाजनक और सुरक्षित पहुंच होगी। बाजार सहभागियों को कानूनी संरक्षण और सरकारी एजेंसियों के साथ खुले परामर्श के आधार पर निर्णय लेने का अवसर प्राप्त होगा। एक नए परिसंपत्ति वर्ग में निवेश के लिए एक पारदर्शी तंत्र होगा, “उप प्रधान मंत्री – डिजिटल परिवर्तन मंत्री मिखाइल फेडोरोव ने कहा।

राष्ट्रीय प्रतिभूति आयोग करेगा:

-आभासी संपत्ति के क्षेत्र में नीति तैयार करना और लागू करना;
-आभासी संपत्ति के संचलन का क्रम निर्धारित करें;
-आभासी परिसंपत्ति सेवा प्रदाताओं को परमिट जारी करना;
-इस क्षेत्र में पर्यवेक्षण और वित्तीय निगरानी करना।

वित्त मंत्रालय की टीम ने इस क्षेत्र में कानूनी क्षेत्र पर काम किया। उद्योग के प्रतिनिधियों के साथ, उन्होंने वर्चुअल एसेट्स पर कानून का मसौदा तैयार करने पर काम किया। वर्तमान में, वित्त मंत्रालय यूक्रेन के कर और नागरिक संहिताओं में उचित संशोधन पर भी काम कर रहा है ताकि आभासी संपत्ति के लिए बाजार को पूरी तरह से लॉन्च किया जा सके।
क्रिप्टो उपयोगकर्ताओं की संख्या में यूक्रेन दुनिया के शीर्ष 5 देशों में से एक है। हमारे पास ब्लॉकचेन डेवलपर्स का एक सुविकसित समाज है। यूक्रेनी क्रिप्टो स्टार्टअप की संख्या बढ़ रही है।

उप मंत्री अलेक्जेंडर बोर्न्याकोव ने कहा।

“आज, वैश्विक क्रिप्टो उद्योग की क्षमता अरबों निवेशों से निर्धारित होती है। इसकी विकास दर अर्थव्यवस्था के पारंपरिक क्षेत्रों से आगे है। यूक्रेन में, आभासी संपत्ति बाजार डिजिटल अर्थव्यवस्था का एक शक्तिशाली क्षेत्र बन सकता है। अपनाए गए कानून के लिए धन्यवाद, हमारे पास इसआईटी विकास के लिए डिजिटल परिवर्तन के अभिनव क्षेत्र में व्यापार विकास के लिए अग्रणी देश बनने का हर मौका है, “

इस से पहले भी पिछले साल यूक्रेन सरकार बिटकॉइन व क्रिप्टो बिल ले कर आई थी लेकिन इसे पास न किया गया जिसके पीछे तर्क था कि क्रिप्टो और बिटकॉइन के लेनदेन को सही तरह से मॉनिटर करने के लिए एक और विभाग बनाने के लिए अभी सरकार आर्थिक तौर पर तैयार नहीं है। इस बारे में यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेन्स्की ने नियम व कानून को और बढ़ाने और इस क्षेत्र की देखरेख करने सम्बंधित कुछ सुझाव दिए थे। करीब चार महीने तक इस पर काम करने के बाद संसद ने इन सुझावों को माना और गुरुवार को एक संतुलित बिटकॉइन रेगुलेशन बिल पेश किया गया जिसे बहुमत से पास कर दिया गया।

जब तक एक देश में किसी व्यापार पर कानून नहीं बनता तब तक इसका लेनदेन ग्रे बाजार के अंतर्गत आता है जिसका कोई हिसाब सरकार के पास नहीं रहता और सरकार इस पर सही तरीके से टैक्स भी नहीं लगा सकती और न ही सरकार का कोई विभाग ऐसे व्यापार को देख सकता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए यूक्रेन सरकार ने यह बिल पास किया है। इस बिल के बाद यूक्रेन में बिटकॉइन और क्रिप्टो निवेशकों के साथ साथ बिटकॉइन की सुविधा देने वाली एक्सचेंज भी स्वतंत्र रूप से काम कर पाएगी। सरकार अब क्रिप्टो निवेशकों को और बेहतर कानूनी संरक्षण भी दे पाएगी।

इस बिल को पास करने के बाद यूक्रेन भी अब उन देशों की सूचि में आ गया है जो अपने देश और नागरिकों को डिजिटल वर्ल्ड के लिए तैयार कर रहे हैं। एल साल्वाडोर ने बिटकॉइन को अपने देश की मुद्रा ही घोषित कर दिया है। धीरे धीरे सभी देश क्रिप्टो और बिटकॉइन को अपना रहे हैं वहीं कुछ देश इस तकनीक को न समझ कर अपना नुक्सान कर रहे हैं।
#Ukraine #bitcoin #cryptonews

Visit us – www.cryptonewshindi.com

follow us on Twitter – https://twitter.com/cryptonewshindi?s=08

Follow us on Telegram – https://t.me/CryptoNewsHindi7i

Mail us – cryptonewshindi7@gmail.com