11 मार्च 2020 सोमवार

पिछले कई हफ़्तों से ग्रीन कैंडल के साथ बंद बंद होने वाली बिटकॉइन की ट्रेडिंग पिछले हफ्ते लाल रंग के साथ बंद हुई और सभी ट्रेड पंडितों को गलत साबित कर दिया।पिछले हफ्ते की शुरुआत बिटकॉइन ने 8894.15 डॉलर से की धीरे धीरे यह नीचे जाता गया और फिर बिटकॉइन जो रफ़्तार पकड़ी तो सभी ने अंदाज़ लगाने शुरू कर दिए की बिटकॉइन का बूल रन आ गया है और कीमत 10 हज़ार डॉलर को पर कर गई तो यह 12 से 15 हज़ार तक जाएगी।गुरुवार को बिटकॉइन ने 10080 की कीमत को छुआ तो बाजार में सब कगुश हो गए की अब उनका बिटकॉइन और ऊपर जाएगा क्योंकि बिटकॉइन हालविंग है रिवॉर्ड आधा होगा मांग बढ़ रही है और सप्लाई काम हो रही है लेकिन हमेश की तरह बिटकॉइन ने सबको गलत साबित किया और शुक्रवार को ही कीमत गिर कर 9705 पर पंहुच गई।एक बार फिर ट्रेड पंडित कहने लगे की यह थोड़ी बिकवाली के कारण था लेकिन बिटकॉइन हालविंग तक 12 से 15 हज़ार जा सकता है लेकिन शनिवार को बिटकॉइन 9520 पर बंद हुआ।अब उम्मीद यह लगाई जा रही थी की पिछले कई हफ़्तों से ग्रीन कैंडल के साथ बंद होने वाली बिटकॉइन के वीकली क्लोज ग्रीन ही होगी और इसके लिए बिटकॉइन की कीमत को 8800 डॉलर से ऊपर जाना था लेकिन रविवार को बिटकॉइन ने वह किया जिसकी उम्मीद ज्यादतर लोगो को नहीं थी और बिटकॉइन की कीमत एक हफ्ते में बड़ी गिरावट ले गई और कीमत 8117 तक पंहुच गई और हर बार की तरह ट्रेड पंडित चार्ट बना कर समझा रहे थे की बिटकॉइन अब 6000 डॉलर तक जाएगा या 5000 डॉलर जाएगा लेकिन बिटकॉइन यहां से दोबारा ऊपर की ओर जाने लगा और सप्ताह क्लोज हुआ 8722 पर और बिटकॉइन ने 8 हफ्ते बाद लाल कैंडल के साथ वीकली क्लोजिंग की।सोमवार सुबह 8684 तक कीमत नीचे गिरी और फिर 8805 तक सवा सौ डॉलर कीमत में उछाल आया और आर्टिकल लिखे जाने पर यह 8749 पर ट्रेड कर रहा था और कैंडल ग्रीन थी।
बिटकॉइन हालविंग मंगलवार को है और उम्मीद है की बिटकॉइन 10 हज़ार डॉलर से ऊपर जाना चाहिए, 1300 डॉलर की छलांग बिटकॉइन के लिए कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन बिटकॉइन का इतिहास बताता है की बिटकॉइन हालविंग के पास बिटकॉइन की कीमत में कोई बड़ा बदलाव नहीं होता।बिटकॉइन की कीमत इस साल मार्च में 3800 डॉलर थी जो अब 8750 डॉलर के करीब है यह बहुत बड़ी ग्रोथ है लेकिन तकनिकी पंडित कहते हैं की बिटकॉइन की कीमत ऊपर जाएगी इस हफ्ते और यह 12 हज़ार डॉलर को पार करेगी।लोग अक्सर यह कहते हैं की यह आखरी मौका है 10 हज़ार से नीचे बिटकॉइन खरीदने का लेकिन बिटकॉइन हर बार इन लोगों को गलत साबित करता है।बिटकॉइन की माईनिंग करने वाले बिटकॉइन की कीमत से होने वाले फायदे या नुक्सान को जानते हैं और बिटकॉइन की कीमत अगर 5000 डॉलर भी जाती है तो उनको कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि बिटकॉइन आज भी उनके लिए फायदे का सौदा है।यह बात जरूर है की उनका फायदा काम हो जाएगा लगभग आधा,हो सकता है की छोटे बिटकॉइन माइनर्स अपनी माईनिंग बंद कर दें और प्रोजेक्ट को बेच दें लेकिन चीन में लगे बड़े बिटकॉइन फार्म फायदे में ही हैं और रहेंगे नहीं तो बाइनेंस जैसा अनुभवी बिटकॉइन की माईनिंग में नहीं आता।बिटकॉइन की कीमत भविष्य में बहुत ऊपर जाएगी इसमें कोई शक नहीं है लेकिन अभी विश्व की अर्थ व्यवस्था सही नहीं है और बिटकॉइन पर भी इसका असर पड़ रहा है।यह हफ्ता केसा होगी बिटकॉइन के लिए और क्या फर्क पड़ेगा बिटकॉइन हालविंग का इसकी कीमत पर ? इस पर बात करेंगे अगले हफ्ते “बिटकॉइन वीकली रिपोर्ट” में।