12 अक्टूबर 2022 (क्रिप्टो न्यूज़ हिंदी)

क्रिप्टो बाजार में जैसे-जैसे कोई प्रोजेक्ट मशहूर होने लगता है वैसे-वैसे सरकारी विभाग की नज़र इन पर पड़ने लगती है और फिर शुरू होती है इनकी जाँच। पूरी दुनिया में अमेरिका इस मामले में सबसे आगे है। मामला है दुनिया की सबसे महंगी और बड़ी NFT कोल्लेक्शन बनाने वाली कंपनी Bored Ape Yuga Labe के ऊपर SEC की कार्यवाही की।

अमेरिका में स्टॉक और वित्तीय मामले देखने वाले विभाग सिक्योरिटीज और एक्सचेंज कमीशन ने Yuga Labe की जाँच शुरू की है जो Bored Ape Yacht Club NFT कोल्लेक्शन के नाम से मशहूर है। SEC इस कार्यवाही के दौरान यह देखना चाहता है कि क्या इस कंपनी ने सरकार द्वारा बनाए गए नियमों का उन्लंघन किया है ? NFT एक बहुत ही नई चीज़ है और इसे किस श्रेणी में रखना चाहिए, इसे ले कर दुनिया के सभी देश भ्रमित हैं। वैसे तो दुनिया का कोई भी देश क्रिप्टो या NFT को शेयर, कमोडिटी या इस तरह कि श्रेणी में नहीं रखता और न ही इनकी कोई कीमत मानता है। समस्या यह है कि यह सभी प्रोजेक्ट कई वर्षो की मेहनत के बाद सफलता पाते हैं। इनकी यही सफलता बाद में इनके लिए मुसीबत बन जाती है। कुछ समाचार ऐसे भी पढ़ने को मिले हैं कि वॉल स्ट्रीट के रेगुलेटर भी इस मामले की जाँच कर रहे हैं।

ट्विटर पर Bored Ape के एक मिलियन फोल्लोवेर्स हैं। SEC की इस कार्यवाही पर अभी तक Yacht क्लब की तरफ से कोई भी बात नहीं कही गई है। Bored Ape की NFT क्रिप्टो बाजार की सबसे महंगी NFT कोल्लेक्शन है और इसे दुनिया की कई मशहूर हस्तियों ने ख़रीदा है। अभी इस मामले की जाँच शुरू हुई है, इस पर कोई केस दर्ज नहीं हुआ है। SEC इसके साथ साथ APE कॉइन की भी जांच कर रही है। 24 डॉलर की कीमत वाला APE अभी 4 से 5 डॉलर की बीच चल रहा है। SEC यह देखना चाहती है कि Ape टॉकन किस तरह काम कर रहा है और क्या इसका वितरण SEC के बनाए गए नियमों के अंतर्गत किया गया है?

बिलियन डॉलर्स कि इस प्रोजेक्ट के बुरे दिनों की शुरुआत अब हो चुकी है। यह NFT और इनके टोकन होल्ड करने वालों को आने वाले समय में बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। NFT बाजार पिछले दो वर्षों में बहुत मशहूर हुआ है लेकिन इसके साथ कई विवाद भी जुड़े रहे हैं। मशहूर यूट्यूबर Logan Paul ने 2021 में एक NFT खरीदी थी, जिसकी कीमत 623000 डॉलर थी, लेकिन अब इसकी कीमत 10 डॉलर भी नहीं है। ऐसे बहुत से लोग हैं जो NFT को भविष्य मानते हैं लेकिन क्या सही में ऐसा है? कैसे कुछ कलाकृतियाँ इतनी महंगी हो जाती है ? क्या यह ऐतिहासिक हैं या इनके मशहूर होने कि पीछे मार्केटिंग है ?

भारत में अगर हम देखें तो NFT का बहुत ज्यादा चलन नहीं है। भारत के एक मशहूर क्रिप्टो यूट्यूबर वेबमास्टरमइंड ने सबसे पहले NFT के बारे में अपने यूट्यूब पर जानकारी देना शुरू किया था। इन्होंने 2021 के शुरूआती दिनों में कई NFT को बनाया और बेचा भी था। Bored APE के बारे में जब हमनें वेबमास्टरमइंड से बात कि तो उन्होंने ने बताया कि “वह इस प्रोजेक्ट को बहुत पहले से फॉलो कर रहे हैं लेकिन कभी इनकी NFT नहीं खरीदी।  उनका कहना है कि WEB3 का सहारा ले कर कुछ लोग निवेशकों के साथ धोखा भी करते हैं। एक NFT बनाने वाला अपने ही दूसरे वॉलेट से अपनी NFT खरीद लेता है और बाजार में समाचार वाले इस खबर को मसाला लगा कर छापते हैं कि कोई NFT मिलियन डॉलर की बिक गई। ऐसा हो भी सकता है लेकिन किसी मशहूर कलाकार की NFT के साथ। अगर ऐसे ही NFT मिलियन डॉलर की बिकने लगती तो आज हर कलाकार करोड़ों रुपये कमाता। क्या किसी ने आजतक एक मिलियन के NFT ले कर दो मिलियन की बेची है? इसका जवाब है नहीं! SEC जो इन्वेस्टीगेशन Bored APE के बारे में कर रहा है, वह अमेरिका के कानून के अंतर्गत कर रहा है। अभी यह खबर कितनी पुख्ता है यह बाद में पता चलेगा इस लिए अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाज़ी होगी।

Bored APE से पहले भी कई और क्रिप्टो प्रोजेक्ट SEC के राडार पर आ चुके हैं। XRP के बारे में हम यह जाँच पिछले कई वर्षो से देख रहे हैं लेकिन अभी तक यह किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। NFT और क्रिप्टो इतना नया क्षेत्र है कि कानून बनाने वाले लोगों को अभी इसे समझना पड़ेगा और फिर सोच विचार कर इस बारे में नियम बनाने होंगे। कई देश इस बारे में जल्दबाज़ी में नियम बना रहे हैं, जिसका नुक्सान इन्हें आने वाले समय में भुगतना होगा। तकनीक को रोक कर नहीं बल्कि तकनीक को समझ कर इसके साथ आगे बढ़ा जा सकता है। नियम व कानून बनाने वालों को सोच समझ कर इस विषय पर नियम बनाने चाहिए। अगर नियम और कानून होंगे तो क्रिप्टो प्रोजेक्ट, NFT बनाने वालों और web3 डेवेलपर्स को अपना काम करने में आसानी होगी और वह कानून के दायरे में रह कर क्रिप्टो और web3 की दुनिया में आगे बढ़ पाएंगे।

#BoredApe #YachtClub #NFT #SEC #PUSH #cryptonewshindi #cryptonews #bitcoin

Visit us – www.cryptonewshindi.com

follow us on Twitter – https://twitter.com/cryptonewshindi?s=08

Follow us on Telegram – https://t.me/CryptoNewsHindi7i

Mail us – cryptonewshindi7@gmail.com