29 सितम्बर 2022 (क्रिप्टो न्यूज़ हिंदी)

पिछले कुछ महीनों से प्रवर्तन निदेशालय बहुत ज्यादा सक्रीय हो कर काम कर रहा है और देश में अलग अलग जगह कार्यवाही करते हुए कई घोटालों का खुलासा कर रहा है। क्रिप्टो द्वारा किए गए घोटालों पर भी अब प्रवर्तन निदेशालय की नज़र है। चीनी लोन एप्लिकेशन पर प्रवर्तन निदेशालय की कार्यवाही के दौरान कोलकोता के व्यापारी आमिर खान पुत्र नासर अहमद खान को गिरफ्तार किया है। आमिर ने E-Nuggets नाम से एक गेम एप्लिकेशन बनाई थी, जिसके द्वारा आमिर ने लोगों के साथ करोड़ों रूपये का स्कैम किया।

आमिर ने अपनी एप्लीकेशन को 2022 में लॉन्च किया था। इस एप्लीकेशन को डाउन्लोड करने और अपनी जानकारी डालने के बाद बैंक अकाउंट की डिटेल्स देनी पड़ती थी और फिर आप इसमें पैसा डिपाजिट कर सकते थे। यह पैसा आपको अपने वॉलेट में तो दिखता था लेकिन होता था आमिर या उसकी कंपनी के अकाउंट में। अपने पैसे को वॉलेट में रखने पर मोटा ब्याज देने और लोगों को रेफेर करने के बदले मोटी कमाई देने का लालच दे कर जल्द ही आमिर की इस ऐप्लीकेशन ने करोड़ों रुपया इकठ्ठा कर लिया। इस एप्लिकेशन में कुछ गेम खेलने के बदले भी कमाई के तरीके दिए गए थे। क्योंकि इस समय कोरोना का समय चल रहा था और लोगों को घर से काम करके कुछ कमाई का साधन चाहिए था तो यह एप्लिकेशन जल्द ही ज्यादा लोगों तक पहुंच गई।

ऐसा कहा जाता था की उपभोक्ता कभी भी अपना पैसा निकल सकता है और शुरू में लोगों ने इसमें पैसा कमाया भी और निकाला भी। कुछ समय बाद शायद आमिर को लगा कि अब बहुत पैसा इकठ्ठा हो गया है या हो सकता है कि देनदारी ज्यादा बढ़ने के कारण जल्द ही इस एप्लिकेशन से पैसा मिलना बंद हो गया। इसके बाद एडमिन और एप्लीकेशन की सारी जानकारी ही सर्वर से साफ हो गई। 15 फरवरी 2021 में पार्क स्ट्रीट पुलिस स्टेशन कोलकोता में फेड्रल बैंक की FIR के अंतर्गत कई धाराओं को लगा कर आमिर के खिलाफ केस दर्ज किया गया। इस पर कार्यवाही करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने आमिर के ठिकानों पर छापेमारी करते हुए बहुत बड़ी तादाद में भारतीय मुद्रा बरामद की।

प्रवर्तन निदेशालय ने 28 सितम्बर को जो प्रेस विज्ञप्ति जारी की है, उसके अनुसार अभी तक आमिर के ठिकानों से 17.83 करोड़ रूपये की भारतीय मुद्रा बरामद की गई है। आगे कार्यवाही करते हुए प्रवर्तन निदेशालय की जाँच में पता चला कि आमिर ने भारतीय क्रिप्टो एक्सचेंज वज़ीरएक्स पर सीमा नास्कर (prop M/S Pixal Design) के नाम से एक फर्जी अकाउंट बनाया और फिर यहाँ पर पैसा डिपॉजिट करने के बाद बिटकॉइन खरीदा। बिटकॉइन को बाद में बिनांस एक्सचेंज पर भेज दिया गया। प्रवर्तन निदेशालय ने 77.62710139 बिटकॉइन को ब्लॉक कर दिया है इसकी कीमत 12 दशमलव 83 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इस मामले में अभी प्रवर्तन निदेशालय अपनी कार्यवाही कर रहा है।

प्रवर्तन निदेशालय इस से पहले भी वज़ीरएक्स के एकाउंट को बंद कर चूका है जिसे बाद में खोल दिया गया था। इस केस में कुछ चीनी ऐप्लिकेशन द्वारा वज़ीरएक्स पर एकाउंट बना कर पैसे को क्रिप्टो में बदल कर चीन भेजे जाने का मामला था। प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत यह कार्यवाही कर रहा है।

इस बीच बड़ा सवाल यह है कि क्रिप्टो एक्सचेंजस इस तरह के स्कैम को कैसे रोक सकता है? वैसे तो जब से भारत में क्रिप्टो लेनदेन और मुनाफे पर बहुत ज्यादा टैक्स लगा है तब से एक्सचेंजस पर नए अकाउंट खुलना लगभग बंद हो गया है लेकिन पुराने अकॉउंट पर भी ट्रेड लगभग ज़ीरो ही है। एक्सचेंज KYC के बहुत कठिन प्रोसेस को पूरा करने के बाद ही कोई अकाउंट खोलता है और अपनी सुविधाएं देता है। ऐसे में कुछ लोग फिर भी सुरक्षा को चकमा दे कर इस तरह का काम कर जाते हैं ? प्रवर्तन निदेशालय और एक्सचेंज को मिल कर ऐसा सिस्टम बनाना चाहिए जिस से एक्सचेंजस पर इस तरह के स्कैम न हों। KYC को और ज्यादा कठोर बनाने की जरुरत है। अकाउंट से एक्सचेंज पर पैसा भेजने की सीमा को भी निर्धारित करना होगा। अभी क्रिप्टो एक्सचेंज से अपनी क्रिप्टो को निकलने पर रोक है और इसका कारण भी यही लोग है, जो गलत तरीके से पैसा कमाते हैं और इसे छुपाने के लिए क्रिप्टो का सहारा लेते हैं।

आमिर खान के इस केस में भारतीय मुद्रा द्वारा लोगों को ठगा गया और फिर उस ठगी के पैसे को छुपाने के लिए क्रिप्टो का सहारा लिया गया।  एक्सचेंज की सुरक्षा को तोडा गया और गलत अकाउंट बना कर पैसा डाला गया व क्रिप्टो को विदेशी एक्सचेंज पर भेजा गया। इस सब में सबसे बड़ा नुकसान हुआ है क्रिप्टो का। इन केस का सहारा ले कर ही भारत सरकार भारत में क्रिप्टो पर लगाम लगाना चाहती है। आमिर के पास जो कॅश मिला उसका क्या ? उसके लिए रिज़र्व बैंक या भारतीय मुद्रा पर क्या कार्यवाही होगी ? जवाब है कुछ नहीं। केवल क्रिप्टो को गैरकानूनी और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए आसान माध्यम बता कर गलत साबित करने का प्रयास किया जाएगा।
#Bitcoin #bitcoinnews #cryptonewshindi #binance #ED #cryptosca

Visit us – www.cryptonewshindi.com

follow us on Twitter – https://twitter.com/cryptonewshindi?s=08

Follow us on Telegram – https://t.me/CryptoNewsHindi7i

Mail us – cryptonewshindi7@gmail.com